SC के जजों को आज लगेगी कोरोना वैक्सीन

16 जनवरी से भारत में टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी

0

कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे फेज की सोमवार को शुरुआत होने के बाद आज यानी मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के जज भी कोविड-19 टीका लगवा सकेंगे। सुप्रीम कोर्ट के जजों (मौजूदा और पूर्व) और उनके परिवारों के लिए टीकाकरण अभियान आज से शुरू हो रहा है। सुप्रीम कोर्ट के 30 जजों में से 29 जज आज वैक्सीन लगवाएंगे, सिर्फ जस्टिस सूर्यकांत को टीका नहीं लगेगा, क्योंकि उनकी उम्र 59 साल है। जजों को दोनों वैक्सीन्स में अपनी पसंद की वैक्सीन लगवाने की सुविधा नहीं होगी। बता दें कि भारत में भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड वैक्सीन से टीकाकरण का अभियान चल रहा है।

दरअसल, 1 मार्च से कोरोना वायरस के खिलाफ जंग का दूसरा महाअभियान शुरू हुआ। इस तरह से से भारत में टीकाकरण का आज 41वां दिन है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, सोमवार तक कोरोना वैक्सीन लेने वालों की संख्या 1.47 लाख पार कर चुकी है। बता दें कि 16 जनवरी से भारत में टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी।

टीकाकरण के दूसरे फेज में 60 साल से अधिक उम्र के लोगों और बीमारी से पीड़ित 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगाया जा रहा है। इस श्रेणी में आने वाले सुप्रीम कोर्ट के जजों और उनके परिवार वालों को भी गाइडलाइन के साथ टीका लगाया जाएगा। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में जल्द ही फिजिकल सुनवाई की तैयारी हो रही है। 24 मार्च से ही सुप्रीम कोर्ट में फिजिकल सुनवाई बंद है।

टीकाकरण के दूसरे फेज में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा टीके की पहली खुराक लेने के साथ ही देश में वरिष्ठ नागरिकों और विभिन्न रोगों से पीड़ित 45 से 59 साल के लोगों के लिए सोमवार को कोविड-19 टीकाकरण अभियान का विस्तार हो गया। पीएम मोदी (70) को सुबह करीब साढ़े छह बजे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भारत बायोटेक के स्वदेशी ‘कोवैक्सीन टीके की पहली खुराक दी गई। बाद में, प्रधानमंत्री ने उन सभी लोगों से टीका लगवाने की अपील की, जो दूसरे चरण के टीकाकरण अभियान के तहत इसकी पात्रता रखते हैं।

वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की एक रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को 60 वर्ष से अधिक आयु के 1,28,630 लाभार्थियों और 45 साल तथा इससे अधिक आयु के 18,850 लाभार्थियों को कोविड-19 का पहला टीका दिया गया।  मंत्रालय के अनुसार, देश में अब तक टीके की 1.47 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है।
सोमवार को सुबह नौ बजे को-विन वेबसाइट पर पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू होने के बाद 25 लाख लाभार्थियों ने पंजीकरण करवाया।  इनमें से 24.5 लाख सामान्य नागरिक हैं और बाकी स्वास्थ्य कर्मी तथा अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मी हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.